हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019 : पलवल सीट पर नहीं रहा किसी एक दल का कब्जा

हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019 : पलवल सीट पर नहीं रहा किसी एक दल का कब्जा

पलवल विधानसभा सीट पर किसी एक राजनीतिक दल का कब्जा नहीं रहा, बल्कि उम्मीदवार को देखकर यहां के मतदाता मतदान करते हैं। कई बार उम्मीदवार की पार्टी का इलाके में कोई वजूद नहीं होने के कारण भी जीती। जबकि भाजपा ने यह सीट कभी नहीं जीती। परिसीमन के बाद इस सीट पर एक बार इनेलो और एक बार कांग्रेस ने जीत दर्ज की। इससे पहले अधिकांशत: कांग्रेस की झोली में यह सीट रही।

इस बार पलवल विधानसभा चुनाव में करीब 11 उम्मीदवार मैदान में उतरे हैं। पिछले 2014 के चुनाव पर नजर डाले तो कांग्रेस के करण सिंह दलाल ने यहां जीत दर्ज की। जबकि भाजपा यहां दूसरे और इनेलो तीसरे स्थान पर रही। इस बार भी दोनों पार्टियों ने अपने पिछले उम्मीदवारों कांगेेस ने करण सिंह दलाल और भाजपा ने दीपक मंगला पर ही दांव खेला है।

करण सिंह दलाल सबसे अधिक पांच बार जीते :इस विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस उम्मीदवार करण सिंह दलाल पांच बार इस सीट से चुनाव जीते हैं। वह दो बार कांग्रेस, दो बार हविपा और एक बार आरपीआई के टिकट पर जीत दर्ज कर चुके हैं। परिसीमन के बाद यह सीट अधिकांशत: शहरी सीट बन गई है। बीते दो चुनाव में इनेलो और कांग्रेस ने इस सीट पर कब्जा किया। जबकि भाजपा पिछले चुनाव में पहली बार दूसरे नंबर तक पहुंची। भाजपा इस सीट पर अभी तक कभी नहीं जीती।

मतदाताओं की स्थिति

कुल मतदाता 230061

पुरुष मतदाता 125449

महिला मतदाता 104607

तृतीय लिंग 000005

मतदान केंद्र 244

Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )