राकांपा के वरिष्ठ नेता अजित पवार ने विधायक पद से दिया इस्तीफा

राकांपा के वरिष्ठ नेता अजित पवार ने विधायक पद से दिया इस्तीफा

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के वरिष्ठ नेता अजित पवार ने विधायक पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने शुक्रवार को महाराष्ट्र विधानसभाध्यक्ष हरिभाऊ बागड़े को अपना इस्तीफा सौंपा जिसे स्वीकार भी कर लिया गया है। मीडिया को जानकारी देते हुए बागड़े ने कहा कि उन्हें राकांपा प्रमुख शरद पवार के भतीजे एवं पूर्व उप मुख्यमंत्री अजित पवार का इस्तीफा शाम में मिला।

एक समाचार चैनल से बात करते हुए बागड़े ने कहा कि अजीत पवार ने हाथ से लिखा हुआ इस्तीफा मेरे निजी सहायक को दिया था और फोन कर मुझसे इस्तीफा स्वीकार करने का आग्रह किया। आपको बता दें कि अजित पवार बारामती क्षेत्र से विधायक हैं। कुछ समय पहले उनका नाम महाराष्ट्र के सिंचाई घोटाले में भी आया था।

एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार ने अजीत पवार के इस्तीफे पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, ‘मैंने उनके बेटे और अन्य सदस्यों से कारण जानने के लिए बात की। मुझे जो पता चला कि वह अपने चाचा (शरद पवार) के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय द्वारा  एक धनशोधन मामला दर्ज किये जाने के बाद से काफी दुखी था क्योंकि इसमें अजीत पवार का भी नाम था। इससे वह बहुत परेशान था।

पवार ने कहा कि अजित पवार ने एक विधायक के तौर इस्तीफा देने से पहले या बाद में हमसे सम्पर्क नहीं किया। अजित पवार इसको लेकर असहज थे कि मेरा नाम एमएससी बैंक घोटाले में आया है

शरद पवार के मुताबिक, ‘अजित पवार ने अपने परिवार को बताया कि जिस शख्स ने 50-52 साल तक महाराष्ट्र की राजनीति में काम किया हो और वह 4 बार महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री रहा हो, देश का रक्षा मंत्री रहा हो और जो अपने कार्यों की वजह से अलग-अलग क्षेत्रों में जाना जाता हो, उसका नाम एक ऐसे मामले में घसीटना, जिस बैंक का वह सदस्य तक नहीं है। यह उनके लिए हजम करने वाली बात नहीं है।’

Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )