प्रथम सचिव ने कहा, इमरान का UN में दिया भाषण भड़काऊ और नफरत से भरा

प्रथम सचिव ने कहा, इमरान का UN में दिया भाषण भड़काऊ और नफरत से भरा

 

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भड़काऊ भाषण पर भारत ने करारा जवाब दिया है। भारत ने जवाब देने के अपने अधिकार का इस्तेमाल करते हुए इमरान खान की हेट स्पीच के एक-एक शब्द गिनाए। संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन में प्रथम सचिव विदिशा मैत्रा ने दो टूक कहा कि पाक पीएम ने UN के मंच का गलत इस्तेमाल करते हुए नफरत भरा भाषण दिया। कश्मीर ही नहीं, भारतीय मुसलमानों को लेकर भी इमरान ने मर्यादाएं लांघते हुए अनाप-शनाप बातें कहीं। भारत ने पाक के प्रॉपेगैंडे का माकूल जवाब देते हुए कहा कि भारतीयों को आतंकवाद की फैक्ट्री चलाने वाले देश से नसीहत लेने की जरूरत नहीं है। विदिशा ने आगे कहा कि परमाणु हमले की धमकी देकर इमरान खान ने अस्थिरता पैदा करने की कोशिश की है। उन्होंने कहा कि वह क्रिकेटर रह चुके हैं और इसे जेंटलमैन का गेम माना जाता है लेकिन आज की स्पीच में उन्होंने (इमरान खान) अपरिपक्वता का परिचय दिया है। मैत्रा ने कहा, ‘ऐसा माना जाता है कि इस मंच से बोले गए हर शब्द का इतिहास से वास्ता है। दुर्भाग्य से पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से हमने आज जो भी सुना, वह दोहरे अर्थों में दुनिया का निर्मम चित्रण था। हम बनाम वह, अमीर बनाम गरीब, उत्तर बनाम दक्षिण, विकसित बनाम विकासशील, मुस्लिम बनाम अन्य था। एक ऐसी पटकथा जो संयुक्त राष्ट्र में विभाजन को बढ़ावा देती है। मतभेदों को भड़काने और नफरत पैदा करने की कोशिश, जिसे सीधे तौर पर हेट स्पीच कहा जा सकता है।’

भारत ने इमरान के एक-एक भड़काऊ शब्द गिनाए

भारत ने संयुक्त राष्ट्र में इमरान के दिए भाषण को हेट स्पीच बताते हुए कहा कि उन्होंने इस वैश्विक मंच का दुरुपयोग कर दुनिया को गुमराह किया है। भारत ने इमरान के ‘नस्लीय संहार’, ‘ब्लड बाथ’, ‘नस्लीय सर्वोच्चता’, ‘बंदूकें उठा लो’, ‘आखिर तक लड़ेंगे’ जैसे एक-एक शब्द को गिनाते हुए कहा कि यह उनकी मध्यकालीन मानसकिता को दिखाता है। विदिशा ने यूएन में साफ कहा कि इमरान खान की बोली हर बात झूठ है।

Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )