दुबई की राजकुमारी, शेख लतीफ़ा ने अपनी बहन के अपहरण मामले को फिर से खोलने के लिए यूके पुलिस से किया आग्रह: रिपोर्ट

दुबई की राजकुमारी, शेख लतीफ़ा ने अपनी बहन के अपहरण मामले को फिर से खोलने के लिए यूके पुलिस से किया आग्रह: रिपोर्ट

दुबई के शासक की बेटी में से एक, शेख लतीफा ने ब्रिटिश पुलिस को पत्र लिखा और उनसे अपनी बड़ी बहन के अपहरण मामले की जांच फिर से खोलने का अनुरोध किया है।

गुरुवार को बीबीसी की एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि दुबई की राजकुमारी शेख लतीफा के लापता होने के बाद जो दुबई के शासक की बेटियों में से एक है, ने ब्रिटिश पुलिस को लिखा है और उन्हें अपने पुराने अपहरण के मामले की जांच फिर से खोलने को कहा है। उनकी बड़ी बहन का साल 2000 में कैम्ब्रिज में एक सड़क से अप्रहन हुआ था।

शेख लतीफा ने एक हस्तलिखित पत्र लिखा, जिसे ब्रिटिश प्रसारक बीबीसी दिनांक 2018 ने एक्सेस किया। पत्र में लतीफा ने कैम्ब्रिजशायर पुलिस विभाग से अपनी बड़ी बहन शमसा (अब 39) के मामले को फिर से खोलने के लिए कहा, जिनका 18 साल की उम्र में अपहरण कर लिया गया था और जिनहे तब से देखा नहीं गया।

दुबई सरकार के आधिकारिक मीडिया कार्यालय को शाही परिवार से जुड़े इस नए विकास का जवाब देना बाकी है।

कैम्ब्रिजशायर पुलिस द्वारा यह पुष्टि की गई कि उन्हें इस मामले के संबंध में फरवरी 2018 का एक पत्र मिला है। उन्होंने कहा कि यह एक “चल रही समीक्षा” का हिस्सा था।

35 साल की लतीफा खुद एक अंतरराष्ट्रीय तूफान के बीच फंस गई है। एक बाथरूम में उनका वीडियो संदेश वायरल होने के बाद वह चिंता का विषय बन गया। बीबीसी द्वारा प्राप्त वीडियो में, उन्होने आरोप लगाया कि उन्हे एक वर्जित विला में बंदी बनाया गया है।

पिछले हफ्ते, संयुक्त अरब अमीरात ने दावा किया कि परिवार और चिकित्सा पेशेवरों द्वारा लतीफा को उनके घर पर रखा गया है।

लतीफा और शमसा के पिता, शेख मोहम्मद बिन राशिद अल-मकतूम ने लंदन उच्च न्यायालय के न्यायाधीश द्वारा टिप्पणियों को स्वीकार करने से इनकार कर दिया है। न्यायाधीश ने आरोपों को साबित करते हुए यह स्वीकार किया कि दुबई के राजा ने अपनी बेटियों के अपहरण का आदेश दिया था।

बाद में, ब्रिटेन ने यूएई को सबूत दिखाने के लिए कहा कि लतीफा अभी भी जीवित है।

Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )