डॉक्टर प्रियंका रेड्डी और रोजा के हत्यारों को फांसी देने की मांग की

एनएसयूआई ने हैदराबाद की डॉक्टर प्रियंका रेड्डी और कांचीपुरम की रोजा की गैंग रेप के बाद निर्मम हत्या पर श्रद्धांजलि अर्पित किया। साथ ही एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने विरोध जताते हुए उक्त जघन्य अपराध करने वाले दोषियों को फांसी की मांग की। प्रदेश महासचिव कृष्ण अत्री ने कहा कि 2 दिन में 2 बड़े रेप के मामले सामने आए हैं। इन्होंने देश की जनता को झकझोर करके रख दिया। एक मामला तेलंगाना के हैदराबाद का है जहां घर लौट रही 26 वर्षीय पशु चिकित्सक प्रियंका रेड्डी को सामूहिक दुष्कर्म के बाद दरिंदों ने जिंदा जला दिया। जबकि दूसरा मामला तमिलनाडु के कांचीपुरम का है। जहां 19 वर्षीय रोजा नाम की लड़की के साथ बलात्कार कर उसकी हत्या कर दी गई। अत्री ने कहा बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ वाला स्लोगन किसी काम का नहीं क्योंकि पढ़ लेने से भी बेटियां बच नहीं जातीं। वे तब भी जिंदा जला दी जाती हैं। उनका दोष यह है कि वे अब भी समाज पर विश्वास कर लेती हैं। अत्री ने कहा इस तरह के दरिंदों के लिए कड़े से कड़े कानून बनाकर सीधा फांसी देनी चाहिए। इस दौरान छात्रनेता विशाल वशिष्ठ, रवि पाण्डेय, विवेक हंस, सौरभ कर्दम, पंकज छोंकर, मधुर, परवेज खान, आकाश झा, अंकित वर्मा, हासिम, दीनानाथ, हेमा चौधरी, योगेश पंवार, हर्ष तंवर, रितिक शर्मा आदि मौजूद थे।

Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (4 )