इसरो कंट्रोल रूम में बेचैनी, मोदी बाहर आए; चंद्रयान की लैंडिंग पर सस्पेंस

इसरो कंट्रोल रूम में बेचैनी, मोदी बाहर आए; चंद्रयान की लैंडिंग पर सस्पेंस

भारत का महत्वाकांक्षी स्पेस मिशन चंद्रयान 2 के चांद पर कदम रखने में सस्पेंस बना हुआ है। पूरे देश के साथ ही दुनिया की नजर भी भारत के मिशन चंद्रयान-2 पर टिकी हुई हैं। इसरो के मुताबिक चंद्रयान 2 विक्रम लैंडर की चंद्रमा के सतह पर लैंडिंग कुछ ही देर में हो सकता है।

लैंडिंग के बाद सुबह साढ़े 5 से साढ़े 6 बजे के बीच रोवर विक्रम से अलग होगा। देश का यह मिशन सफल होता है तो भारत चांद के साउथ पोल पर पहुंचने वाला दुनिया का पहला देश बन जाएगा। इस हिस्से पर अभी कोई और नहीं पहुंचा है।

इसरो कंट्रोल रूम में बड़ी बेचैनी है। पीएम मोदी बाहर आ गए। इसरो चीफ से बातचीत के बाद सिवन बाहर आए। सस्पेंस बना हुआ है।

इसरो मुख्यालय से निकले पीएम मोदी। सस्पेंस कायम।

तनाव भरे क्षण। कुछ ही देर में चांद की सतह को चूमेगा विक्रम। 13 मिनट 48 सेकेंड की प्रक्रिया सफलता के साथ पूरी हो चुकी है।

अब बस 200 मीटर ऊपर है लैंडिंग साइट से विक्रम।

 

 

 

Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )