आईएसआई की खालिस्तानी समूहों के साथ मिलकर ‘भारत विरोधी’ योजना !

आईएसआई की खालिस्तानी समूहों के साथ मिलकर ‘भारत विरोधी’ योजना !

 आईएसआई भारतीय सेना की छवि खराब करने की साजिश रच रही !

सुरक्षा एजेंसियों ने गृह मंत्रालय को लिखी एक रिपोर्ट में कहा है कि पाकिस्तान के आईएसआई ने पंजाब और भारत के अन्य हिस्सों में वरिष्ठ सेवानिवृत्त पुलिस और सेना के अधिकारियों को निशाना बनाने की साजिश रची है। इस प्रोजेक्ट को, ‘प्रोजेक्ट हार्वेस्टिंग कनाडा’ नाम दिया गया, पूरी योजना गुपत है और केवल शीर्ष आईएसआई अधिकारियों को इसकी जानकारी है।

खबरों के मुताबिक, आईएसआई ने कनाडा स्थित खालिस्तानी आतंकवादी को ‘प्रोजेक्ट हार्वेस्टिंग कनाडा’ को सफलतापूर्वक अंजाम देने का काम दिया है। गृह मंत्रालय के सूत्रों ने कहा कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई पंजाब में गड़बड़ी पैदा करने के लिए खालिस्तानी आतंकवादियों और उनके समर्थकों को कई तरह की मदद दे रही है। इससे पहले भी खुफिया एजेंसी को इनपुट मिले थे कि आईएसआई ने खालिस्तानी आतंकवादियों को पाकिस्तान और भारत के अन्य हिस्सों में सेवानिवृत्त पुलिस अधिकारियों को निशाना बनाने के लिए निर्देशित किया था।

भारतीय सुरक्षा एजेंसियां ​​यह पता लगाने की कोशिश कर रही हैं कि ‘प्रोजेक्ट हार्वेस्टिंग कनाडा’ के निष्पादन के लिए आईएसआई द्वारा अब तक कितने खालिस्तानी आतंकवादियों की भर्ती की गई है। एजेंसियां ​​इन आतंकवादियों के नेटवर्क का पता लगाने पर भी केंद्रित हैं। पाकिस्तान की आईएसआई भी भारतीय सेना की छवि खराब करने की साजिश रच रही है। सूत्रों ने कहा कि सेना की खराब छवि बनाने के लिए आईएसआई सेना से जुड़े कई फर्जी दस्तावेजों को प्रसारित कर रहा है। आईएसआई इन फर्जी दस्तावेजों को प्रसारित करने के लिए सोशल मीडिया का उपयोग कर रहा है।

आपको बतादें कि कुछ दिनों पहले मिलिट्री इंटेलिजेंस द्वारा कथित तौर पर जारी किया गया एक पत्र मीडिया के पास आया और पत्र में दावा किया गया था कि भारतीय सेना के सभी सिख जवान खुफिया एजेंसियों के निशाने पर हैं। बाद में यह पत्र फर्जी निकला और यह पाया गया कि ISI ‘सिख फॉर जस्टिस’ नामक एक अलगाववादी समूह की मदद से इस प्रकार के पत्रों को प्रसारित कर रहा है।

उसी समूह ने दुनिया के विभिन्न हिस्सों में सेना के खिलाफ प्रदर्शनों का मंचन किया था जिसमें दावा किया गया था कि नकली पत्र में लिखा हुआ सबकुछ सत्य था । गृह मंत्रालय की रिपोर्ट में यह भी कहा गया कि आईएसआई युवा पंजाबियों का ब्रेनवॉश करने के लिए सिख फॉर जस्टिस की मदद ले रहा है। यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि आईएसआई सिख फॉर जस्टिस को फंड कर रहा है, जो भारत के खिलाफ दुनिया भर के सिखों को गुमराह करने पर केंद्रित है।

Share This

COMMENTS

Wordpress (1)
  • Kartik Sethi 3 years

    What to say about all this… But remember this Arm forces will take care of them…??????

  • Disqus (0 )